शुक्रवार, जुलाई 31, 2009

मिस्टर आइडिया

डोमिनिक विलकॉक्स को मीडिया में Ideas Man कहा जाता है, लेकिन वे अपने आपको एक सामान्य ज़िंदगी जीने वाला आम आदमी बताते हैं. ब्रिटेन में एडिनबरा कॉलेज ऑफ़ आर्ट और रॉयल कॉलेज ऑफ़ आर्ट से पढ़ाई करने वाले विलकॉक्स अपने अनुभव और अपनी कल्पना शक्ति के घालमेल से ऐसी चीज़ें और ऐसे विचार सामने लाते हैं कि सचमुच का आम आदमी दाँतों तले अंगुली दबा कर ज़रूर कह बैठे- अरे ये मैंने क्यों नहीं सोचा था!

विलकॉक्स ने अनेक आर्ट गैलरियों के साथ-साथ Nike और Esquire जैसे जानेमाने ब्रांडों को भी अपनी सेवाएँ दी हैं.

पिछले दिनों एक पत्रिका में मैंने डोमिनिक विलकॉक्स के बारे में पढ़ा और उनकी वेबसाइट पर जाकर उनकी कृतियों के नमूने देख कर यही लगा कि अभिनव विचार भी हास्य बोध के साथ प्रस्तुत किए जा सकते हैं. प्रस्तुत हैं उनकी कृतियों और परिकल्पनाओं की बानगी-

अम्ल-वर्षा से ख़ूबसूरती पाने वाला पौधा

लिटमस पौधा

आगंतुकों का हिसाब रखने वाली दरवाज़े की घंटी

आगंतुक सूचना पट

चौकोर पेंदे वाला जीन संवर्द्धित अंडा

चौकोर पेंदे वाला अंडा

डोमिनिक्स विलकॉक्स की ऐसी ही अन्य परिकल्पनाओं को उनकी इन वेबसाइटों पर जाकर देखा जा सकता है-

http://variationsonnormal.com/

http://www.dominicwilcox.com/bin.html

2 टिप्‍पणियां:

अनूप शुक्ल ने कहा…

गजनट! साइट पर जाकर देखना होगा।

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey ने कहा…

ये जनाब तो वाकई शानदार हैं रचनात्मकता में!